Feeds:
पोस्ट
टिप्पणियाँ

Posts Tagged ‘इंतज़ार’

वो वक्त जैसे बीत कर भी नही बिता

मेरे आज में शामिल है वो कुछ इस तरह



कहते है वक्त से पहले किसी को कुछ नही मिलता

जाने वो वक्त कब आएगा

उस वक्त के इंतज़ार में तो उमर गुजर गई



वक्त इंसान को क्या से क्या बना देता है

कल तक जो नही देते थे जवाब

आज वो पूछते है हाल

Read Full Post »

अपने ही कंधो पे ,अपनी लाश लिए जा रहे है
जाने किस , उम्मीद में जिए जा रहे है
जानती हूँ ,तू शामिल नही अब मेरी जिंदगी में
फिर भी तुझे याद किए जा रहे हैै

गलत राह पे पड़ते तेरे कदमो को, जब रोकना चाहा मैंने
तो तुम छोड़ के मुझे अकेला, मुझसे दूर, बहुत दूर चले गए
तेरे लोटने के इंतज़ार में
एक एक पल को गिने जा रहे हैै

तुझसे शिकवे -शिकायत भी है ,पर तेरा इंतज़ार भी है
तेरे दिए गमो को नही भूले है ,पर तुझसे जुड़ी खुशियाँ भी याद है मुझे
तेरी दी हुई खुशियों के सहारे ही हम
पैमाना -ऐ -गम पिए जा रहे है

कभी कभी ख़ुद से यही पूछती हूँ
आख़िर क्यों इस बेमतलब की
जिंदगी को
जिए जा रहे है

Read Full Post »