Feeds:
पोस्ट
टिप्पणियाँ

Posts Tagged ‘खुशी’

Image and video hosting by TinyPic

कहने को तो पानी का एक कतरा है पर

कितने ही जज्बातों का दरिया है



हर सपने को बड़े प्यार से आँखों में छुपा रखा था

आँख से आंसू बन के बहा जो, वही टुटा हुआ इक सपना है



बिन कहे मेरे दिल के हर जज्बात को बयां कर जाते है

खुशी हो या गम हर दम साथ निभाते है

लाख छुपाना चाहूं मैं

पर ये आंसू चुगली कर जाते है


Image and video hosting by TinyPic


हमने उन कि याद में रो रो के टब भर दिए

वो आए और नहा के चल दिए
(ये मेरा लिखा नही है)

Advertisements

Read Full Post »

गम

गम का भी अपना ही मजा है
गम न हो तो जीवन इक सजा है
गम है तभी तो खुशी का अहसास है
पर
गम अगर हद से बढ जाए
गम अगर बर्दाशत से बाहर हो जाए
तो खुशी का अहसास ही मर जाता है

Read Full Post »