Feeds:
पोस्ट
टिप्पणियाँ

Posts Tagged ‘दामन’

तु कया लूटेगा उन लूटे हूओ को
जो पहले ही वकत के हाथो लूटे है ।

तोड़ सकी जिस ना मुश्किलें हजार
आज वो अपनों के हाथो ही टूटे है ।

कब तक हर दुःख को अपने दामन मे समेटू
आज ये दामन मुझसे छूटे है ।

ये रिश्ते ही थे मेरा सारा संसार
आज इस संसार मे मेरा दम घुटे है ।

Read Full Post »