Feeds:
पोस्ट
टिप्पणियाँ

Posts Tagged ‘dard’

अपने जब दूर जाते है


तो


बहुत दर्द देते है


पर


अपने जब पास रह कर


भी


दूरिया बना लेते है


तो


दिल में एक कसक


छोड़ जाते है



Advertisements

Read Full Post »

दरद

बीती बातो की मत पूिछए
जुबाँ पर आएँ तोॆ दरद देतीहै।

दरद से अपना पुराना नाता है
िदल का ददॆ आखॊ से बयाँ हो जाता है।

आखो की भी अपनी भाषा होती है
समझने की कोिशश तो कीिजए।

कहने से कया होता हैएक बार
इस दरद को िदल से महसूस करके तो देिखए ।

Read Full Post »